Ashish Awasthi   (ख़ाक)
6.7k Followers · 91 Following

read more
Joined 14 May 2017


read more
Joined 14 May 2017
Ashish Awasthi 30 NOV AT 17:54

श्मशान

है पावन इसकी धरा सुनो
मानव मिटटी बन जाता है
अपनी काया माया छाया
छोड़ छाड़ कर जाता है।।

-


80 likes · 4 comments
Ashish Awasthi 20 NOV AT 15:04

मर्ज़ जब डॉक्टरों से न हो ठीक तो
नर्स को हाथ अपना दिखाया करो।।

-


Show more
153 likes · 14 comments · 5 shares
Ashish Awasthi 13 OCT AT 15:03

वो जिनके लौट आने की कोई उम्मीद तक ना है
उन्हीं का तक रहा रस्ता हमारा ख़ूबसूरत दिल।।

-


Show more
134 likes · 7 comments · 3 shares
Ashish Awasthi 4 OCT AT 13:16

दर्द देकर बारहा मज़बूत जो पैकर करे
इस तरह का इश्क़ तो कई बार होना चाहिए।।

-


Show more
169 likes · 17 comments · 2 shares
Ashish Awasthi 2 AUG AT 12:42

एक ही फ़न में माहिर हुए हैं अभी
किस तरह इश्क़ में सब लुटाते चलें।।

-


Show more
208 likes · 27 comments · 2 shares
Ashish Awasthi 18 JUL AT 8:02

आज दर्द-ए-दिल से वापस साँस ये रुकने लगी
आज तुमको फिर हवा बन करके आना चाहिए।।

-


Show more
162 likes · 25 comments · 3 shares
Ashish Awasthi 4 JUL AT 20:07

फ़क़त मैं ख़ुद ही से जुदा हो रहा हूँ
लगा सबको सबसे जुदा हो रहा हूँ।।

-


Show more
221 likes · 18 comments · 4 shares
Ashish Awasthi 16 JUN AT 12:55

राह आसां कर दे जो हर राह के कंकर हटा कर
उस फ़रिश्ते को ख़ुदा ने भेजा है वालिद बना कर।।

-


192 likes · 15 comments · 14 shares
Ashish Awasthi 15 JUN AT 13:39

किसी ने भेष देखा तो किसी ने बात का लहजा
किसी ने भी नहीं देखा हमारा ख़ूबसूरत दिल।।

-


Show more
232 likes · 23 comments · 1 share
Ashish Awasthi 14 JUN AT 13:45

छत के ऊपर घर के ऊपर छत के ऊपर घर यहाँ
लोग अब तो आसमां तक बिल्डिंगे बनवायेंगे।।

-


Show more
123 likes · 6 comments

Fetching Ashish Awasthi Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App