Aryama Mishra   (अर्चि)
2.2k Followers · 175 Following

A mischievous star with a magical shine.
Joined 28 December 2016


A mischievous star with a magical shine.
Joined 28 December 2016
Aryama Mishra 16 MAR AT 19:35

मुझे गुदगुदाती हुई
मद्धम-मद्धम पवन की लहर,
बारिश के आने का संकेत देती हुई
मयूर के कुहकने की ध्वनि,
कई आधुनिक म्यूजिक बैंड्स से आगे निकलता हुआ
विभिन्न पंछियों के कलरव से उपजता मिश्र संगीत,
अपने साथ यादों में कुछ दूर सफ़र कराती हुई
यही पास से गुजरती रेलगाड़ी की आवाज़,
घर के संध्या पूजन की याद दिलाती हुई
दूर किसी मंदिर में गुंजित सुमधुर दुर्गा आरती,
कुछ यूँ, बेगाने शहर में भी अपनापन बिखेरते हुए
शाम और उसकी मंडली के सदस्य।

-


शाम और उसकी मंडली के सदस्य।❤
#yqdidi #archiwrites #शाम
42/365

28 likes · 5 comments
Aryama Mishra 16 MAR AT 10:28

अभी खोई नहीं हिम्मत मैंने
अभी भयभीत नहीं संघर्ष से मैं।
अभी ही तो राह चुनी है
अब तो लम्बी दूरी तय करनी है।
अभी तो आत्मविश्वास जगा है
अब तो गगन को चूमना है।

-


Show more
24 likes
Aryama Mishra 7 MAR AT 23:44

प्रतिकूल हो परिस्थितियां तो
हिम्मत तुम कतई ना खोना प्रिय।
हर रात के बाद तो सवेरा आता ही है
सृष्टि की संरचना ही इसी भाँति हुई है।
तो मैं और तुम कौन होते है
रात पर शोक व्यक्त करने वाले,
उसकी कालिमा पर विलाप करने वाले।
बस जरूरत है तो समय की उंगलियों को थाम,
अपनी काबिलियत की नाँव में बैठ
भोर के तट पर पहुँचने की।
सफ़र में डर ना लगे इस माफ़िक
तारों की बारात संग चाँद दूल्हा बन
देखो खड़ा है रात की चौखट पर।
ताकि तुम्हारे चेहरे पर मुस्कान बनी रहे,
तुम्हारी रचनात्मकता बरकरार रहे,
और तुम सकुशल इन प्रतिकूलताओं को
पार कर, इच्छित दिशा की ओर हो अग्रसर।

-


भोर की ओर।
#yqdidi #archiwrites #भोर #जीवन
40/365

26 likes · 8 comments
Aryama Mishra 6 MAR AT 22:56

इश्क़ रुठ गया है
हैं ख़्वाब कुछ अधपके,
सपने जल गए हैं
उम्मीदें धूप में सुखी हुई,
और वफाओं ने इन्कार कर दिया है
चाँद के हरेक कतरे से।

हाँ इश्क़ रूठ गया है,
वो लाल चूनर बेरंग हो गई हैं
सवालों की भीड़ में
गुम सी गयी है मेरी गली,
भावनाओं की पत्तियाँ टूट कर बिखरी हुई
और बादलों ने इन्कार कर दिया है
अतृप्त धरा को भिगोने से।


-अर्चि & अजीत

-


Show more
24 likes · 7 comments
Aryama Mishra 3 MAR AT 23:52

नभ के प्राँगण में बिखरी है मेरी मुस्कान,
परिंदा हूँ, परवाज़ ही मेरी पहचान।
नाप लूँ मैं ये सारा आसमान,
आत्मविश्वास के पंखों का यही है अरमान।

-


परिंदा।
#yqdidi #archiwrites
38/365

28 likes · 1 comments
Aryama Mishra 3 MAR AT 17:55

मन को चाहे कितना भी
क्यों ना समझा लूँ कि
दिल के मोहल्ले एक ही हैं हमारे।
सच भी है, घंटों साथ
वक़्त बिताती हूँ मैं।
कभी ख़यालो के ज़रिए
तो कभी करती मिल जाऊँगी लंबी चौड़ी गुफ्तगू।
पर हमारे शहरों के दरमियाँ
ये जो दूरियाँ है ना, चिढ़ाती हैं मुझे।
किसी नन्ही बालिका की तरह चिढ़ भी जाती हूँ मैं,
मानो तुम हो मुझे सबसे प्रिय, पर किसी ने
अलमारी के ऊपर वाली दराज़ में रख दिया हो तुम्हें।
मैं निरी नन्ही गुड़िया सी दूर से ताकती रह जाती,
और दूरियाँ मुझे चिढ़ाती हुई सी
मेरी बालमन सरीखी व्यथा पर ठहाके लगा पड़ती।

-


चिढ़ाती हुई कुछ दूरियाँ।
#yqdidi #archiwrites #शहर
37/365

29 likes · 6 comments · 2 shares
Aryama Mishra 1 MAR AT 22:27

A pause; yes a pause is required to help things from getting monotonous and buy time to bring a fresh touch to whatsoever is happening inside and out just like the semicolon to a beautiful crafted sentence.

-


//pause
#yqbaba #archiwrites #pause
36/365

34 likes · 1 comments · 1 share
Aryama Mishra 1 MAR AT 22:05

जेबों में यादों के सिक्के
खनखनाती हुई चलती हूँ।
कभी मुठ्ठी भर वक़्त
तुम भी बटोर लाओ तो,
कुछ सिक्कों को उछाल
तुमसे जुड़ी यादें ताजा कर लूँ।

-


//यादों के सिक्के
#yqdidi #archiwrites #yaadein
35/365

41 likes · 3 comments · 2 shares
Aryama Mishra 1 MAR AT 0:32

ये जो जज़्बात होते हैं ना, ये बड़े खुदगर्ज किस्म के होते है।
कब कैसे उमड़ पड़ते हैं, कुछ पता नहीं चलता। यूँ आकर कोहराम मचा कर चले जाते हैं बिल्कुल उन घने काले बादलों जैसे जिनका मकसद सिर्फ बारिश कराना होता है। वो ये नहीं देखते की इस बारिश ने धरा पे कैसी हलचल मचाई है। कितना कुछ बह गया ये उन जज़्बाती बादलों को कौन समझाए।

-


जज़्बाती बादल।
#yqdidi #archiwrites #जज़्बात
34/365

34 likes · 13 comments
Aryama Mishra 23 FEB AT 18:17

A bridge under the sky
A scooter on the bridge
A l'll girl on the back seat of the scooter
Spreading her arms smiles her widest smile
The sky, the bridge, the scooter and the girl, all swings in the freedom of this moment.

-


//Moment
#yqbaba #archiwrites
33/365

37 likes

Fetching Aryama Mishra Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App