Arun Prakash Singh   (Arun Prakash Singh)
5.6k Followers · 621 Following

read more
Joined 3 November 2016


read more
Joined 3 November 2016
Arun Prakash Singh 18 HOURS AGO

खो गया ख़ुद में कहीं मैं,
ढूंढता ख़ुद को यहाँ,
मिल सके वो रास्ता जो,
ले चले मुझको वहाँ,
हूँ जहां पे रो रहा मैं,
बंध के ख़ुद की बेड़ियों में,
थाम के मैं हाथ अपना,
ले चलूं ख़ुद को वहाँ,
हूँ जहां आज़ाद सा मैं,
मिल सकूँ ख़ुद को जहां,
हो सकूँ जो एक फिर मैं,
ख़ुद को ख़ुद में घोल के,
रुक सकूँ तब तक जहां मैं,
जाना मुझे है अब वहाँ,
ढूँढता ख़ुद को ख़ुदी में,
खो गया ख़ुद में यहाँ।

-


Towards the way to me

46 likes · 16 comments · 2 shares
Arun Prakash Singh 4 SEP AT 20:09

उसको पता भी न था,
कि मैं देख रहा था,
और मैं,
बस देख रहा था।

-


A poem to follow.... "मैं उसको ही देख रहा था"

1332 likes · 32 comments · 31 shares
Arun Prakash Singh 19 JUL AT 15:50

तुमने कई सरहदें देखी हैं,
और मैंने सारी जिंदगी, सिर्फ हदें।

-


Show more
92 likes · 1 comments · 3 shares
Arun Prakash Singh 25 JUN AT 23:20

चलो कहीं हवा हो जाएं,
बीमार सी इस दुनिया में,
एक दूसरे की दवा हो जाएं।

-


Show more
101 likes · 11 comments · 7 shares
Arun Prakash Singh 26 MAY AT 15:28

Acceptance makes all things PERFECT.

-


76 likes · 1 comments · 1 share
Arun Prakash Singh 16 MAY AT 9:44

We will dance in the night, where the fire has a shadow, where our hand reach the sky, where water melts to ice, where the reasons don't apply.

Without logic we will smile when we will dance in the night.

Holding hands we will walk towards the end of everything. Holding hands we will reach to our lost forever. The forever is in night, where we will dance.

Free we will be, when we will dance in the night.

Smiling you and smiling me; we will gaze in the eyes when we will dance through the night.

Let's promise to that night, there will be no may and might. We will walk and we will reach to our beautiful forever night.

-


Let's Dance in the Night😊

#night #forever #together #love

38 likes · 3 shares
Arun Prakash Singh 15 MAY AT 13:02

तू कभी तू सी नहीं,
मैं कभी मुझ सा नहीं,
देखते एक दूसरे को,
हम में कोई हम सा नहीं।

-


Show more
59 likes · 3 comments · 7 shares
Arun Prakash Singh 15 MAY AT 12:30

तेरे मामूली से लफ़्ज़ों पे,
हर शायरी नाकाम है,
मुस्कुरा दे तू देख मुझको,
हर एहसास तेरे नाम है।

-


Your expressions are poetry.

#poetry #love #heart

87 likes · 8 comments · 2 shares
Arun Prakash Singh 29 APR AT 8:36

गूँज रही हैं वो शायरियाँ,
आज भी मेरे ख़्यालों में,
तुझसे शर्मा के ,
पन्नों से कतरा के ,
जो मिट गई हैं।

-


Show more
51 likes · 2 comments · 5 shares
Arun Prakash Singh 26 APR AT 23:05

होता है क़त्ल-ए-दिल हज़ार बार,
बस देखने पे तुझको एक बार।

-


तब नहीं अब इश्क़ है,
बस ये दिल आज भी मजबूर है।

#you #me #love

87 likes · 11 comments · 7 shares

Fetching Arun Prakash Singh Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App