Anshuman Kuthiala   (शहर में शायर)
118 Followers · 23 Following

read more
Joined 22 May 2017


read more
Joined 22 May 2017
23 OCT AT 14:04


प्रेम बन्धन नहीं,मुक्ति है ,

यही जीवन की सुक्ती है !

-


16 OCT AT 22:30


कोई बुरा सपना हो जैसे !

-


13 OCT AT 13:29

मेरे दिल में पल्नेवाली कहानी ,

वो तो है एक जाली कहानी !

-


9 OCT AT 18:22




मासूम ही रह जाता मैं ,




जो तुमसे न मिला होता !

-


6 OCT AT 14:15

तेरा जाना सिर्फ़ जाना नहीं जान-ए-जाना ,

ये जान जानकर ही सब सताते हैं मुझे !

तुझे खोना ना होना तेरा पहचान है मेरी ,

लोग तेरे ही नाम से अब बुलाते हैं मुझे !

-


26 SEP AT 20:47

तुझे खोना ना होना तेरा पहचान है मेरी ,

लोग तेरे ही नाम से अब बुलाते हैं मुझे !

-


24 SEP AT 5:13

A damsel in distress with woes she supposes ,

Her life is a hard strife, amidst a bed of roses !

-


20 SEP AT 11:15



अब तो हर बात पे पड़ रहा है हाथों को धोना जी ,

कहीं जान से ना हाथ धो बैठें हम ओ कोरोना जी !

-


19 SEP AT 9:09

चाँद भी अब प्यार में है ,

हमारी तरह क़तार में है !

-


18 SEP AT 23:34


माशूका

कवि का ख्वाब अधूरा ,

जिस पर विश्वास उसे पूरा ,

पीठ पर घोंप गई छूरा !

-


Fetching Anshuman Kuthiala Quotes