Anshuman Kuthiala   (शहर में शायर)
233 Followers · 25 Following

read more
Joined 22 May 2017


read more
Joined 22 May 2017
4 JUL AT 3:46

पड़ोसी ने ही पड़ोसी को मरवाया है ,

और नाम नूपुर शर्मा का फंसाया है !

-


4 MAY AT 14:20

सोचा था जिंदगी कटेगी अपनी प्यार के सहारे ,
थी क्या ख़बर जीनी पड़ेगी अख़बार के सहारे !

-


9 APR AT 21:52



ये प्यार भला कहाँ जाता है ,
जब कहीं जा नहीं पाता है !

सीने में ही आग लगाता है ,
ख़ुद ही वो फिर जलाता है !

-


14 FEB AT 20:16

इंतज़ार में चाँद के जागते तारे रह गए ,

इस बार वैलेंटाइन पे जो कुँवारे रह गए !— % &

-


13 FEB AT 14:33

आख़िरी बार जब तुम्हें चूमा था ,

मन मेरा मोर बन कर झूमा था !— % &

-


30 DEC 2021 AT 17:31

सोचता हूँ कि तुझे एक ख़त लिखूँ ,

पर बचा क्या है जो कमबख्त लिखूँ !

-


11 DEC 2021 AT 16:08

प्यार वो कंबल है ,

जो देता संबल है !

-


12 AUG 2021 AT 23:21



After falling in love, you do rise my dear friend ,







From top of the world, I advise my dear friend !

-


8 AUG 2021 AT 15:27




ओ! रीमा तेरे इन्तज़ार ने शायर बना दिया ,

बे - बीमा इस प्यार ने शायर बना दिया !

-


Fetching Anshuman Kuthiala Quotes