105
Quotes
2.4k
Followers
72
Following

Amandeep Singh (MannसेAman)

Insta: a.man_deep

Insta writing : mannseaman_

New Story ("I Love You") 👇
Amandeep Singh 19 FEB AT 14:46

वो आई ना! ताकता रहता है
वो, आईना ताकता रहता है

-


Show more
69 likes · 14 comments
Amandeep Singh 26 JAN AT 2:17

गर्व से दो दफ़ा साल में, 'मुल्क आज़ाद है' कहते हैं
बाल मज़दूर वो, जो सुबह, तिरंगा बेचते रहते हैं

-


Show more
64 likes · 1 share
Amandeep Singh 21 DEC 2018 AT 23:26


सताना

Show more
37 likes · 8 comments · 2 shares · 109 Views
Amandeep Singh 13 DEC 2018 AT 12:31

अधिक श्रृंगार नहीं, केवल माथे पर बिन्दी होनी चाहिए

मुझसे ब्याह करना है? अरे! रगों में हिन्दी होनी चाहिए




-


Show more
491 likes · 49 comments · 43 shares
Amandeep Singh 24 NOV 2018 AT 22:55


क्यों मैंने

Show more
41 likes · 13 comments · 147 Views
Amandeep Singh 21 NOV 2018 AT 23:19


28 likes · 7 comments · 88 Views
Amandeep Singh 3 OCT 2018 AT 0:26

हाथ तुम्हारे, बन कंघी, जो बालों को सुलझाते हैं
तुम्हें देखते रहते हैं और खुद में हम शर्माते हैं
नज़रें रहती तिरछी उस पल, गीत लबों पे आते हैं
सब मिल के इस दिल की तारों को बेहद उलझाते हैं

-


Show more
72 likes · 11 comments
Amandeep Singh 23 SEP 2018 AT 3:45

उसे पसंद थीं 'आँखें' मेरी, मुझको उसके 'लब'
फिर भी झगड़ा करते रहते, मिलते थे हम जब

आँसू बहते मेरे, लेकिन जीत प्यार की होती थी
अपने 'होठों' से जो वो मेरी 'आँखों' को धोती थी

-


62 likes · 5 comments
Amandeep Singh 23 SEP 2018 AT 1:38


समय का पहिया

38 likes · 12 comments · 2 shares · 206 Views
Amandeep Singh 31 AUG 2018 AT 21:04


दुखड़े लिखे

201 likes · 20 comments · 3 shares · 518 Views

Fetching Amandeep Singh Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App