Ujjwal Utsahi   (Utsahi Ujjwal)
1.9k Followers · 8 Following

नफ़रतों के दौर में प्यार लिखता हूँ
हाँ साहब मैं श्रृंगार लिखता हूँ
©उत्साही "उज्जवल"
Joined 21 May 2018


नफ़रतों के दौर में प्यार लिखता हूँ
हाँ साहब मैं श्रृंगार लिखता हूँ
©उत्साही "उज्जवल"
Joined 21 May 2018
Ujjwal Utsahi 22 JAN AT 11:28

हाथ में हाथ कूड़े डाल चल साथ कूड़े
दुनिया दा लोड़ नइ जो हो तू पास कूड़े

नाल तेरे मैं तो घर एक बनावंगा
ये जिंदगी संग तेरे तो मैं बितावंगा
क्या तू सोच रइ मैनू तू दस भी दे
जो है मंजूर तुझे तो थोड़ा हस भी दे
सच्ची मैं दश रेया ना तोड़ आस कूड़े
हाथ में हाथ कूड़े डाल चल साथ कूड़े
दुनिया दा लोड़ नइ जो हो तू पास कूड़े

मेरी बेबे भी तो करे तुझको पसंद
तेरे बापू भी है बिल्लो तो रजामंद
तू गल मेरी सुन ज़िद जाँ तू छड दे
इस पागल शायर नू बाहाँ विच भर ले
ना छडेगा साथ तेरा तू कर विश्वास कूड़े
हाथ में हाथ कूड़े डाल चल साथ कूड़े
दुनिया दा लोड़ नइ जो हो तू पास कूड़े
―उत्साही "उज्जवल"

-


60 likes · 9 comments
Ujjwal Utsahi 22 JAN AT 1:30

कौन याद करेगा ऐसे कौन गलें लगाएगा
काम पड़ेगा जब जिसको पास हमारे आएगा

तू भी कर ले वादों का क्या सब करते हैं
उसको रब मानूँगा मैं जो कर वादें निभाएगा

तन में आलस और नयन में तेरे सपनें
ना बेटे ऐसे लला तू कुछ भी ना कर पाएगा

कहता है कि प्यार है उससे पागल है तू
ख़ुद बेरोज़गार है उसको क्या खिलाएगा
-उत्साही

-


72 likes · 9 comments
Ujjwal Utsahi 10 JAN AT 15:35

जिस दिन हुनर-ए-शायरी हमें आ जाएगा
उस दिन ग़ज़ल आपके नाम लिखा जाएगा

-


76 likes · 13 comments
Ujjwal Utsahi 10 JAN AT 13:52

दीदी मेरी कितनी प्यारी
कितनी भोली कितनी न्यारी
शब्दों से प्रहार करे हैं
शब्द हैं इनके भला-कटारी

हरदम ओठों पे हसीं लिए
इश्क़ कलम से गाती हैं
वस्ल, हिज्र, यादें सबको
ले कविता ये बनाती हैं

चंचल जैसी चारु किरने
निर्झर सी लहराती हैं
फूल जैसा मन लिए
दिल से सबको लगाती हैं

घोर निशा में जगे रहने
की आदत इन्हें पुरानी है
पेड़ सरीखे खड़ी हैं माना
पर दिल में भरी नादानी है

चाहें जितना भी लिख दूं
फ़िर भी बची रह जानी है
यही मेरी भोली दीदी की
मस्ती से भरी कहानी है
—उत्साही


-


Dedicating a #testimonial to pihu mehta ❣️❣️

57 likes · 11 comments

Seems Ujjwal Utsahi has not written any more Quotes.

Explore More Writers
YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App