#2

695 quotes

" never get inspired by the twinkling stars
   In the darkest​ night instead
  Get motivated by the thug life of sun
  Who rise upon the darkness and 
  Puts other stars to fade shame "

                               -JObin JOseph

#its Ur time#2 shine

YESTERDAY AT 14:58

नफ़रत करूं या करूं मोहब्ब्त मैं,
ये यार तू ही बता क्या करूं मैं ?

लगती हैं तू मेरे जिंदा रहने की जरूरत,
तो करता हूं मैं तुझे पाने की मशक्कत।

लगती हैं तू मेरे जिंदा रहने को मुसीबत,
तो करता हूं मैं तुझसे मुख़्तसर मुलाकत।

कभी तलाशता हूं मैं तूझकोे मिलने को फुर्सत,
कि दीदार को मज़बूर करती हैं तेरी नफ़ासत।

गुलज़ार हैं जिंदगी जब होती हैं तेरी कुर्बत,
तेरी बेरूख़ी में तो जिंदगी लगती हैं गु़रबत।

जानता हूं मैं महरूम होगा,हैं इश्क़ जिसका मुद्दत,
कि तू बिन इत्तला के ही होगा एक दिन रूख़सत।

लिखते लिखते बन न जाए,ये कविता मेरी शिनाख़्त,
कि बगैर तेरे ये जिंदगी लगती हैं मेरी कमबख़्त।।

करूं बेहिसाब मोहब्बत, तो कभी थोड़ी थोड़ी नफ़रत मैं।।

#नफरत करूं या करू मोहब्बत #yqbaba#yqhindi#yqdidi#yqtales#yourtales #1. मुख़्तसर- थोड़ा, घटाया #2. नफ़ासत- सुंदरता, अच्छाई #3. गुलज़ार- आबाद, आनन्द से भर पूर #4. कुर्बत- नजदीकी #5. बेरूखी- नाराजी #६. गुरबत- गरीब होने की अवस्था, कष्टदायक जीवन #७. महरूम-बदनसीब #८. मुद्दत- बरसों से #९. शिनाख़्त- पहचान #१०.कमब़ख्त- बदकिस्मत

YESTERDAY AT 2:33

Face the mask
 that masks the face

#face#2#challenge#mask#musings#yqbaba#oneliner#monamy#thereality#ttt#wordporn#wriyersofimstagram#igwriters#tpmd

20 JUL AT 17:55

It doesn't matter how much you write
It only matters how much depth in it

#2

20 JUL AT 14:49