Upload Video

#दम

118 quotes

YourQuote
YourQuote
मन से मन के तार 
जब तुमसे जुड़ गए 
न जाने उस राह में 
कैसे हम आगे बढ़ गए !
तुमने न देखीं कमियां मेरीं
लाख गलतियाँ मैंने बख़्शीं
ऐसा क्या था तब जो
हम हर मोड़ चढ़ गए !
वक़्त अभी तो कुछ था फिसला   
क्यों जाता है दम सा निकला 
मन वही मैं वही 
और तुम भी तो वही हो
क्यों पतझड़ आते ही फ़िर
सूखे पत्ते ये झड़ गए !
फ़िकर कहाँ कब मैंने की
जिन्दादिली है ज़िंदगी भी
बहारें तलाशेंगी मेरा पता 
ख़ुद पर जो हम अड़ गए !
.
#शशिधनगर...©®

#मन#दम#राह#yqdidi#yqbaba