#जंग

114 quotes

......

#yqdidi#yqbaba#जंग#मयखाना#बेवफा#हुनर#मुहोब्बत#ज़हर#वजूद#

17 AUG AT 10:43

मोहब्बत में जंग भी जरुरी है ठीक उसी तरह 
जैसे मैं तुझे और तू मुझे जरुरी है ।

#मोहब्बत#जंग#yqbaba

16 AUG AT 7:44

~क्यों है निशब्द, क्यों है हैरान तू ~

See full poem in caption...

#निशब्द,#पहचान, #हैरान, #जंग, #आज़ादी, #challenge,#aastha dadhich, #yqdidi, #yqbaba ~क्यों है निशब्द, क्यों है हैरान तू ~ क्यों है निशब्द, क्यों है हैरान तू, क्या कुछ देखा ऐसा, जरा खुलकर बता या महसूस किया कुछ ऐसा जो न हो बताने जैसा || कारण जो मुझको लगा इस हैरानी का, शायद वो ही हो या कुछ अलग सोच हो तुम्हारी| बता जरा खुलकर बता|| हालाँकि मैं भी हु थोड़ा हैरान, हाँ वजह गया हु पहचान|| आज फिर से आज़ादी का जश्न मनाएंगे हम, या आज़ादी की जंग लड़े हम, अरे किसकी आज़ादी, और कोनसी आज़ादी का, वो जो भगतसिंघ दिला गए, या वो जो अभी आज़ादी मांग रहे है| अभी मन में शंका है, जंग या जश्न|| मै जंग चुनना चाहूंगा , जंग बुरी सोच से, जंग इन कट्टरपंथियों से, जंग इस मानवता के दुश्मन से, जंग इस अशिक्षा से, जंग इस मन की गंदगी से, जंग इस वास्तविक गंदगी से| हर एक क्षण लड़ना चाहूंगा, हर एक क्षण बदलाव लाना चाहूंगा|| हाँ मै भी हैरान हूँ, कि कैसे ये अपने लोग अफवाहो पे भरोसा कर लेते है, कि कैसे ये लोग इन मुठी भर नेताओ की बातो में आ जाते है| क्या वज़ह यही है निशब्दता की, हाँ आज इन बातो से मैं भी हूँ निशब्दःमैं भी हूँ हैरान, चाहूंगा जंग, न की ज़श्न, हाँ मैं भी हूँ निशब्द , मैं भी हूँ हैरान||

15 AUG AT 13:47

हर सुबह जंग होती है
समय से मेरी
और समय को हराकर
हर सुबह मैं बस
पकड़ ही लेती हूँ..

#YQDidi#बस यूँ ही# बस#समय#जंग

3 AUG AT 6:35