Shashank Shukla   (Baaz)
526 Followers · 5 Following

read more
Joined 7 November 2016


read more
Joined 7 November 2016
Shashank Shukla 19 OCT 2017 AT 11:07

Wishing All Of You A Very Happy
And
Prosperous Diwali.

#AurKaunJaun #12November2017
#JaunJaaniMuhabbatYaani

-


Event Page Link :-
https://www.facebook.com/events/172103553344004/?ti=cl

19 likes
Shashank Shukla 11 OCT 2017 AT 3:29

बात कोई उम्मीद की मुझसे नहीं कही गयी
सो मेरे ख़्वाब भी गए सो मेरी नींद भी गयी।
#JaunElia
#AurKaunJaun #12November2017
#JaunJaaniMuhabbatYaani

-


Show more
52 likes · 1 comments · 3 shares
Shashank Shukla 19 SEP 2017 AT 23:31

कभी तनहा समन्दर कभी वीरान सहरा सा हो गया
मेरी जाँ बाद तेरे किसी पे मरना, मरना सा हो गया।
#ShashankShukla'Baaz'

-


#inkmythoughts #baaz #YQDidi
https://www.facebook.com/inkmythoughts/

42 likes · 8 comments
Shashank Shukla 13 SEP 2017 AT 1:59

महफ़िल में चंद शेर
जब मेरा साथ नहीं देते,
मैं तुम्हारे लिखे हुए
कुछ ख़त पढ़ देता हूँ।
#ShashankShukla'Baaz'

-


#inkmythoughts #baaz #YQDidi
https://www.facebook.com/inkmythoughts/

48 likes · 6 comments · 1 share
Shashank Shukla 4 SEP 2017 AT 12:07

रात दिये की मानिंद ख़त्म हो रही है और मैं हमेशा की तरह जाग ही रहा हूँ। आज फर्क ये है की महीनों से मेरे साथ रह रही तन्हाई सो रही है और मेरी परछाईं मुझसे बात कर रही है।
हर उस चीज़ से दूर जा रहा हूँ जो मुझे जला रही है,
क्या कुछ ऐसा बचा है जिसे ख़ुद से दूर करना हो?
ये सोचते हुए जानी जॉन की किताब में दबी हुई एक सिगरेट की डिब्बी पे नज़र पड़ी...उन 19 मुलाकातों की याद इन 19 सिगरेट से बेहतर और कौन जला कर ख़त्म कर सकता है।
सुबह होने और ख़ुद के ख़त्म होने के इंतज़ार में -
#ShashankShukla'Baaz'

#inkmythoughts

-


#inkmythoughts #Baaz #YQDidi
https://www.facebook.com/inkmythoughts/

37 likes · 7 comments
Shashank Shukla 20 AUG 2017 AT 1:49

फिर सफ़र में मंजिल मिले न मिले कोई गम नहीं
मुझे उस मोड़ पर छोड़ देना जहाँ घर तुम्हारा हो।
©-ShashankShukla'Baaz'
#inkmythoughts

-


#inkmythoughts #baaz #YQDidi
https://www.facebook.com/inkmythoughts/

46 likes · 12 comments · 4 shares
Shashank Shukla 16 AUG 2017 AT 11:50

बहक जाता है और ख़ुद को समझदार समझता है
लगा के दिल सभी से ख़ुद को वफ़ादार समझता है।

उसकी उम्र है छप्पन की और आदतें लड़कपन की
वो अपनी हर बात को यूँ ही असरदार समझता है।

हर किसी से मुहब्बत? मियाँ किसी ख़ास को खो दोगे
वो रंग-मंच का पुतला ख़ुद को कलाकार समझता है।

वो मंज़िल नहीं, चाहतों की दौड़ में खो जाना है
वो बिना छत के घर को भी हवादार समझता है।
©-ShashankShukla'Baaz'
#inkmythoughts

-


#YQDidi #Baaz #inkmythoughts
https://www.facebook.com/inkmythoughts/

39 likes · 10 comments · 1 share
Shashank Shukla 11 AUG 2017 AT 22:02

अजीब हादसा था हम दोनों में कोई नहीं मरा
लफ्ज़ मुहब्बत को लेकिन दफना दिया गया।
#ShashankShukla'Baaz'

-


#inkmythoughts #baaz #YQDidi
https://www.facebook.com/inkmythoughts/

89 likes · 18 comments · 4 shares
Shashank Shukla 9 AUG 2017 AT 23:30

Gbnnvvnn

-


#inkmythoughts #baaz #YQDidi
https://www.facebook.com/inkmythoughts/

43 likes · 5 comments · 1 share
Shashank Shukla 7 AUG 2017 AT 16:41

Fhjcfhh

-


#inkmythoughts #baaz #YQDidi
https://www.facebook.com/inkmythoughts/

31 likes

Fetching Shashank Shukla Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App