Rohit Shukla  
3.4k Followers · 106 Following

read more
Joined 11 February 2018


read more
Joined 11 February 2018
Rohit Shukla 22 FEB AT 16:06

टूटा-बिखरा हालात से लड़ रहा हूँ,
लड़खड़ाकर ही सही, आगे बढ़ रहा हूँ...

-


212 likes · 23 comments · 2 shares
Rohit Shukla 31 DEC 2018 AT 9:25

//ज़ेहन//
चिंगारी निकलती
आग के अंजुल से,

ऊपर उठती
राख के चंगुल से,

कोई जुगनू जैसे
तारों की खोज में,

ऊपर उठता
आसमाँ की गोद में,

...ज़ेहन में इक सवाल आता है,
मुझे मेरा ख़याल आता है...

-


Show more
167 likes · 18 comments · 1 share
Rohit Shukla 29 DEC 2018 AT 16:31

मेरे ख़्वाबों से रूबरू होकर
रातें भी रो पड़ीं,

ज़रा ओस की बूँदों को ही देख लो...

-


193 likes · 27 comments · 2 shares
Rohit Shukla 28 DEC 2018 AT 1:00

पत्थरों को ये मसला खल गया,
वो ठोकरों के बाद भी कैसे चल गया...

-


Show more
179 likes · 37 comments · 9 shares
Rohit Shukla 21 DEC 2018 AT 13:28

आज वो संदूक खोला
जिसमें बचपन के टूटे खिलौने थे,
अपना टूटा दिल रखने के लिए,

उन खिलौनों के साथ...

-


Show more
152 likes · 33 comments
Rohit Shukla 20 DEC 2018 AT 1:02

मेरे घर की दीवारों पर दरारे हैं,
छत भी टपकती है,

ये भी कई टूटे रिश्तों का चश्मदीद रहा है...

-


158 likes · 32 comments · 2 shares
Rohit Shukla 19 DEC 2018 AT 23:56

ज़रा देखो तो क्या गज़ब लिख दिया है,
तेरा नाम लिखा है या कोई ग़ज़ल लिख दिया है...❤️

-


Show more
111 likes · 20 comments
Rohit Shukla 19 DEC 2018 AT 23:15

बहुत शोर करते हैं ये सूखे पत्ते,
ज़रूर अपनों ने साथ छोड़ा होगा...

-


149 likes · 44 comments · 11 shares
Rohit Shukla 18 DEC 2018 AT 14:04

दोष क्यों दूँ ज़माने को,

मैं भी तो सुलगती लकड़ियों
में सुकूँ तलाशता हूँ...

-


150 likes · 21 comments · 2 shares
Rohit Shukla 17 DEC 2018 AT 15:43

इक परिंदा कैद कर रखा था,
जो मेरा पैग़ाम मेरे मुहब्बत
तक पहुँचाता था,
और,
खुद उसकी मुहब्बत
उससे छीन रखी थी...

"आज़ादी"

-


143 likes · 38 comments

Fetching Rohit Shukla Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App