Prashant Khakare   (प्रशांत खाकरे 🕉️♥️)
4.6k Followers · 1 Following

read more
Joined 4 September 2018


read more
Joined 4 September 2018
22 OCT 2018 AT 14:21

प्यार में काबिल नहीं थे जो, वो हि प्यार करने चले आये
दिल के घाव गहरे थे, इसलिये घाव भरने चले आये

-


6 OCT 2018 AT 18:24

बिना जान पहचान के भी रोज मुझसे मिलने आया करती हैं
अपने प्यार के मीठे बोल रोज सुनाने आया करती हैं !!

खुद से भी ज्यादा हमसे प्यार करती हैं
हमे अपनी जान कह कर हम पर हि मरती हैं !!

रोज सवेरे जागू तो आइने में उसकी हि झलक पाता हूं
बिना तुम्हे देखे भी तुम्हारे जज्बात समझ लेता हूं !!

हर रोज़ मन करता है बस तुम्हारे पास चले आए
सब्र नहीं होता अब, इस पागल दिल को भी कोई समझाए !!

सपने में तुम्हे देखता हूं तो जिंदगी जिने का मन करता है
लेकिन जब सामने तुम आती हो तो तुम पर
जिंदगी मिटाने का मन करता है !!

हमेशा ऐसे ही मेरी ज़िन्दगी में खुशियां भरते रहना
कितने भी आए दर्द बस ऐसे हि हर दर्द से लड़ते रहना !!

-


25 SEP 2018 AT 16:38

एक सपना हैं मेरी आंखो में,
की तेरे साथ रहना चाहता हूं !
तेरे पास आता हूं,
तो कुछ कहना चाहता हूं !
पर पता नहीं चलता कैसे कहूं,
तुम्हे खोने का डर लगता है !
चाहे कोई भी हो पल,
तेरे साथ रहने का मन करता है !

-


24 SEP 2018 AT 14:02

इश्क़ नहीं छुपता छुपाने से,
सामने आही जाता है !
तेरे ही एहसानो से,
झटककर सामने आही जाता है !
तू कितनी भी करले कोशिश,
तेरा हि होकर रहता हैं !
यही तो हैं हमारा इश्क़,
जो कुछ भी करके सामने आही
जाता है !

-


13 SEP 2018 AT 10:09

Dream girl

-


10 SEP 2018 AT 9:09

तुम नब्ज पढ़ो
मै लब्ज बोलता हूं

-


8 SEP 2018 AT 17:15

Jai Gajanan

-


6 SEP 2018 AT 17:02

खूबसूरती मेरी आज भी
आसमान को छूती हैं
पर इस दुनिया से डर लगता है
जो हमेशा उड़ने वालो के पर काट
देते हैं

हमेशा कुछ नायाब सपनो में खो
जाती हूं
हर बार खुद को नये अंदाज़ में
देखती हूं
छुपाके इसे दुनिया से कुछ नया
पाना चाहती हूं

दिल में लेकर सच्चाई और मन में
पाकर विश्वास
खुद को दुनिया से परे समझती हूं
इस खतरो से भरी दुनिया में
कहीं से भी अपना रास्ता निकाल
हि लेती हूं


-


6 SEP 2018 AT 0:20

कुछ कदमों में ही दर्द के बहाने मिल जाते हैं

कुछ इस तरह मुझे मेरे हमदर्द मिल जाते हैं

-


4 SEP 2018 AT 20:22

इश्क़ और भी गहरा होने लगा
जब वो हसने लगे तो प्यार भी परवान चढ़ने लगा

-


Fetching Prashant Khakare Quotes