Kriti Sen   (KritiSen)
5.7k Followers · 20 Following

read more
Joined 20 January 2019


read more
Joined 20 January 2019
Kriti Sen YESTERDAY AT 20:49

कुछ तन्हा शामें गुज़री है
कुछ शामें तन्हा गुज़री है

-


268 likes · 37 comments
Kriti Sen YESTERDAY AT 21:34

तुम्हारी धड़कन में उतर जायेंगे
साँसों में पिघल के तुम्हें बेशुमार चाहेंगे

-


Show more
345 likes · 33 comments · 2 shares
Kriti Sen 16 SEP AT 13:05

ऐसी भी क्या बेरुखी है जो बात नहीं करते हो
आँखें दो चार करके इज़हार नहीं करते हो

-


341 likes · 42 comments · 2 shares
Kriti Sen 15 SEP AT 17:35

तुम्हारा दिया हुआ वो आख़िरी ख़त
जिसे मैंने बड़ा संभाल के रखा था
तुम्हारी ख़ुश्बू से भरा हुआ लफ़्ज़
रूह को महका रहा था
जिसमें तुमने सलाह दी थी..
ज़िन्दगी में आगे बढ़ने के लिए ,
तुम्हें भुला कर , ख़ुश रहने के लिए
तुम्हारा इंतज़ार नहीं करने के लिए !
लेकिन, तुम्हें कौन ये समझायेगा
मेरी ज़िंदगी हो तुम
देखो ना..
आज भी, मैं तुम्हें भुला नहीं पाई
आज भी, तुम्हारे बिना मैं खुश नहीं
और आज भी, मैं तुम्हारा इंतज़ार करती हूँ

-


313 likes · 32 comments
Kriti Sen 14 SEP AT 20:41

बताओ ना कैसे नज़र अंदाज़ करूँ तुम्हें ?
तुम तो माहिर हो इस हुनर में !

-


Show more
398 likes · 44 comments · 1 share
Kriti Sen 9 SEP AT 21:00

दिल के एक कोने में
तुम आज भी महफूज़ हो ,
किसी अनकहे ख़्वाब की तरह
तुम आज भी इन आँखों में रहते हो ,
कैसे भुला दूँ तुम्हें जान-ए-जाँ
तुम आज भी नस नस में बसे हो ।

-


Show more
459 likes · 37 comments · 1 share
Kriti Sen 8 SEP AT 11:56

कभी फुर्सत मिले तो मुझसे गुफ़्तगू करने आना मेरे दोस्त
आँखों से जुदा हो लेकिन,
दिल-ओ-जाँ से जुदा ना होना मेरे दोस्त

-


513 likes · 41 comments · 7 shares
Kriti Sen 3 SEP AT 10:54

मुझे मुद्दतों बाद याद आया ,
एक चेहरा ,
जिसे मैंने लिखकर मिटाना चाहा
एक अरसे से ।

-


Show more
465 likes · 31 comments · 1 share
Kriti Sen 29 AUG AT 11:24







-


Show more
510 likes · 55 comments · 1 share

Fetching Kriti Sen Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App