Jyoti Patel   (✍ My Diary)
735 Followers · 82 Following

read more
Joined 12 April 2018


read more
Joined 12 April 2018
Jyoti Patel 2 HOURS AGO


''किस चीज का गुरूर तुझे, किस चीज का घमंड है ll
बदलते मौसम की तरह, तेरे दिन भी यहाँ चन्द है ll
खुदा का नाम लेकर, जो भी कर ईमान से कर;
उस ख़ुदा को सिर्फ और सिर्फ ईमान पसंद है ll''

-


62 likes · 11 comments · 1 share
Jyoti Patel YESTERDAY AT 21:23

" हर मुद्दे को सियासी बताते हैं ll
नेता छींक को खांसी बताते हैं ll"

-


101 likes · 13 comments · 1 share
Jyoti Patel YESTERDAY AT 20:31

"मस्जिद भी जाते हैं, मंदिर भी जाते हैं ll
हाथ जौडते हैं और, गिर भी जाते हैं ll
घर में ही माँ बाप, रूप है भगवान के,
जानते तो हैं सभी, फिर भी जाते हैं ll"

-


Show more
102 likes · 10 comments
Jyoti Patel 11 NOV AT 22:34

"वो देखता है दूर से. ऊपर से घूर के ll
कसूर-वार बने हम, बिना कसूर के ll"

-


Show more
147 likes · 24 comments · 1 share
Jyoti Patel 9 NOV AT 22:11

"मंजिल के सफर में कठनाईयॉ तो होंगी ही ll
दिल-ए-जिगर में तन्हाईयॉ तो होंगी ही ll
वो कहते हैं, बहुत रूस्वा हैं हम तेरे शहर में,
कातिल के शहर में रूस्वाईयॉ तो होंगी ही ll"

-


Show more
179 likes · 28 comments
Jyoti Patel 9 NOV AT 10:44

"मायूस से लोंट आये हम अपने घर को ll
मान जाये वो, भगवन तू ही कुछ कर तो ll
प्यार में जुबॉ खामोस, नजरें इसारा होती हैं,
अब तक कुछ भी नहीं समझ पाये पर वो ll"

-


Show more
168 likes · 21 comments
Jyoti Patel 6 NOV AT 22:52

"फुरसत मिल जाए अगर आज से,
तो मुड़कर कल को भी देख लेना ll
दिन न दे अगर वक़्त तो मोहलत लेकर रात से ;
सोने के बाद अपने चंचल मन को ही भेज देना ll"

-


308 likes · 37 comments · 1 share
Jyoti Patel 5 NOV AT 22:12

"जख्मी फिर याद आई आपकी और रो दिए हम...
वीरान से जंगल में अश्कों के मोती बो दिए हम...

बेदर्द इस जमाने में इन अश्को को पानी कहा जाता है,
और यह पानी है कि आँखों से बेवजह ही बहा जाता है...
हमारी वफ़ा ही खता बनी उम्र भर जो किये हम...
जख्मी फिर याद आई आपकी और रो दिए हम...

रोया तो तन्हाई में पर साथ थे आप...
पौंछ रहे थे आंशू अपने हाथ से आप...
नही रुक रही दौनों आँख से बरसात;
बह रहे आंशू मेरे अपने आप से आप..."

-


Show more
203 likes · 14 comments · 1 share
Jyoti Patel 3 NOV AT 12:04

.. ......

-


245 likes · 21 comments · 1 share
Jyoti Patel 2 NOV AT 22:01

"ख्वाब नींद में ज्यादा न दे ll
मुझे उम्मीद से ज्यादा न दे ll
कट चुकी है मेरे नाम से जो,
उस रसीद से ज्यादा ना दे ll"

-


237 likes · 26 comments · 18 shares

Fetching Jyoti Patel Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App