8 JUN 2021 AT 22:16

बंद हुए जिनके लिए खुशियों के रास्ते,
मयखाने खोले गए उनके ही वास्ते।

- बदलता वक़्त