Bhavini_ Kushwah   (vineeę👒)
1.2k Followers · 9 Following

read more
Joined 4 August 2018


read more
Joined 4 August 2018
Bhavini_ Kushwah 13 JUN AT 22:56

उसकी पसन्द नापसंद का ख्याल रखती हुँ
शिकायते सुन कर उसकी
खुद को मुजरिम समझती हुँ

-


51 likes · 9 comments · 1 share
Bhavini_ Kushwah 11 JUN AT 0:09

तार्किकता पर विजय
एहसासो की हुई हैं
मेरे विचारो के चुनाव में
एहसासो की सरकार
फिर जीत गई हैं

-


61 likes · 12 comments
Bhavini_ Kushwah 10 JUN AT 15:07

वो भूख स्वाद नहीं परखती हैं
जो कच्ची सड़को के भरोसे जीती हैं

-


92 likes · 9 comments
Bhavini_ Kushwah 2 JUN AT 20:36

रूहानी सी
मुहब्बत हो गई है तुझसे
तेरी हर तस्वीर में
नजर आती हैं सादगी जबसे

-


72 likes · 17 comments
Bhavini_ Kushwah 2 JUN AT 10:07

यह अनमोल मुस्कान
जीवन की आशा बन कर
चमकती हैं
महलो की दीवारे
इस चमक को
मिटा नहीं सकती

-


Show more
69 likes · 13 comments
Bhavini_ Kushwah 1 JUN AT 11:43

ना कोई दुश्मन हैं
ना ही कोई पराया हैं
सारे मेरे अपने हैं
सपनो से भी सच्चे हैं
निभाते हैं सभी
रिश्तेदारी अपने हिस्से की
कच्चे धागे भी
यहाँ इमान के पक्के हैं

-


Show more
58 likes · 8 comments
Bhavini_ Kushwah 1 JUN AT 1:44

यह रात भी तनहाई में गुजर जाएगी
कल फिर नया सवेरा आएगा
और ये रात फिर अधूरी रह जाएगी...

-


50 likes · 10 comments
Bhavini_ Kushwah 26 MAY AT 10:11

सांसे भी लेती हुँ तो तेरा ही ख्याल आता हैं
तेरे ख्यालो में खो कर मैने,
अपना अलग जहां बसाया हैं

-


55 likes · 2 comments · 1 share
Bhavini_ Kushwah 23 MAY AT 15:34

कभी-कभी स्तब्ध हो जाती हैं कलम भी
जैसे शब्द ही ना हो
हालातो को बायां करने के लिए ♥

-


45 likes · 4 comments · 2 shares
Bhavini_ Kushwah 7 MAY AT 22:47

अभी सीखा ही था मैने
सफर- ए-जिंदगी को जीना आजादी से
की फिर उन बेड़ियों ने
मुझे बंदिश में रखने की फ़रियाद की हैं

-


69 likes · 9 comments

Fetching Bhavini_ Kushwah Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App