Rupal Singh   (रूपल सिंह 'भारतीय नारी')
779 Followers · 27 Following

read more
Joined 11 November 2017


read more
Joined 11 November 2017
Rupal Singh 31 JAN AT 20:28

तोड़ देंगें वो तमाम बंदिशें जो ज़माने ने लगाई है मोहब्बत पर हमारी,
तुम बन जाना अस्तित्व मेरा और मैं चलूंगी हमेशा परछाई बनकर तुम्हारी।

-


Show more
29 likes · 4 comments · 2 shares
Rupal Singh 31 JAN AT 12:29

मैंने बना रखा था जमाने को अल्फाज़ों से दीवाना,
तुमने तो खामोश रह कर मुझे मुझसे ही चुरा लिया।

-


Show more
33 likes · 15 comments · 3 shares
Rupal Singh 26 JAN AT 11:49

लांघी जो अपनी सीमा तो तुम्हें जाने नहीं देंगें,
दाग़ भारत माँ के आँचल पर लगाने नहीं देंगें,
जिनकी हर साँस में शामिल है जुनून देशप्रेम का,
वो हिंद के वीर हिंद की शान में कमी आने नहीं देंगें।

-


Show more
28 likes · 5 comments · 2 shares
Rupal Singh 25 JAN AT 15:35

इतना ज़रूरी क्यों हूँ तुम्हारे लिए?
मैंनें मुस्कुराकर जवाब में सवाल कर दिया,
दिल के लिए धड़कन ज़रूरी क्यों है?
जीने के लिए साँसें ज़रूरी क्यों है?
रिश्ते के लिए भरोसा ज़रूरी क्यों है?
मंज़िल के लिए रास्ता ज़रूरी क्यों है?

-


Show more
31 likes · 10 comments · 1 share
Rupal Singh 16 JAN AT 16:23

मैं तमाम शिकायतों की एक किताब लिखती हूँ,
और तुम हो कि एक आवाज़ से हर पन्ना जला देते हो।
मैं करती हूँ कोशिश पत्थर सा सख़्त बनने की,
और तुम हो कि मुझे मोम सा पिघला देते हो।

-


Show more
30 likes · 6 comments · 2 shares
Rupal Singh 14 JAN AT 15:59

कुछ इस तरह कट रही ज़िन्दगी मैं जी लिया करूँगी,
नापसंद होते हुए भी चाय तुम्हारे साथ पी लिया करूँगी।

-


Show more
28 likes · 5 comments · 2 shares
Rupal Singh 13 JAN AT 14:48

जो मेरे ख़ास थे कभी आज मुझसे ही जल रहे हैं,
अंदाज़ा है मुझे मेरी आस्तीन में साँप पल रहें हैं।

-


Show more
39 likes · 9 comments · 1 share
Rupal Singh 27 NOV 2019 AT 14:11

सोचा न था कभी फिर इतना करीब आएंगे,
सीने से लगकर तुम्हारी धड़कन सुन पाएंगेे,
क्या हुआ अगर वो बस चार पल का अहसास था,
मगर यादों की किताब में वो पल सुनहरे पन्ने बन जुड़ जाएंगे।

-


Show more
54 likes · 9 comments · 1 share
Rupal Singh 14 SEP 2019 AT 7:52

"शेरनी" 🐯💕

-(अनुशीर्षक में)

-


Show more
35 likes · 7 comments · 4 shares
Rupal Singh 13 SEP 2019 AT 20:41

मर्ज़ कैसी भी हो मेरे हौसलों को मार नहीं सकती,
जब तक तुम ज़िन्दगी में हो मैं ज़िन्दगी से हार नहीं सकती।

-


Show more
47 likes · 9 comments · 2 shares

Fetching Rupal Singh Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App