4 FEB 2021 AT 11:48

ये इश्क़ साला गरीबी पर नहीं जचता है

आज कल दुपट्टा भी महगी घड़ी पर फसता है

- 𝒜𝓈𝒾𝒻 𝓈𝒶𝒾𝒻𝒾